Narendra Modi News / नरेंद्र मोदी और मनमोहन सिंह की विदेश यात्राओं की तुलना.

२०१४ के बाद जबसे नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री बने है तबसे उनकी विदेशी यात्राओंपर बोहत से सवाल उठाए गए है. इसी लिए हम Narendra Modi news में जानेंगे की नरेंद्र मोदी और मनमोहन सिंह के यात्राओं का खर्चा क्या है? कितने दिन देश के बाहर रहें? कितनी विदेशी यात्रा की? उन विदेशी यात्राओं में कितनी मीटिंग की? और उन मीटिंग में कितने पैसे खर्च हुए.

यह Narendra Modi news भी पढ़ें : नरेंद्र मोदी का कांग्रेस को चैलेंज – आओ मुकाबला करे.

Modi News / Narendra Modi

विदेशी यात्राओंपर किया गया खर्चा

मनमोहन सिंह अपने १० के कार्यकाल में ८० विदेशी यात्राएं की जिसपे ६७६ करोड़ से ज्यादा पैसे खर्च हुए. वही नरेंद्र मोदी ने ४ साल के कार्यकाल में ५२ विदेशी यात्राएं की जिसमे ३५५ करोड़ रूपए खर्च हुए. इस आकडे का खुलासा एक RTI के जरिए हुवा है. RTI कार्यकर्ता रमेशचंद जोशी ने एक RTI दाखिल की थी, जिसके जवाब में प्रधानमंत्री कार्यालय ने उन्हें इस आकडे की जानकारी दी है. अपने १० साल के कार्यकाल में मनमोहन सिंह देश के ३०३ दिन बाहर रहे वही नरेंद्र मोदी अपने ४ साल के कार्यकाल में १६५ दिन देश के बाहर रहे. पहले साल में नरेंद्र मोदी ने १८ देशो का दौरा किया वही मनमोहन सिंह ने १४ देश का. पहले साल नरेंद्र मोदी ५७ दिन बाहर रहे और मनमोहन सिंह ४२ दिन बाहर रहे.

Modi News / Narendra Modi

खर्चे में कटौती

मनमोहन सिंह के साथ विदेशी यात्रा के समय जो काफिला जाता था, वही नरेंद्र मोदी ने विदेशी यात्रा को जाने वाले लोगो को आधा कर दिया. नरेंद्र मोदी ५०% स्टाफ कम कर दिया इससे खर्चा भी कम हुवा. नरेंद्र मोदी  चायना गए वहा ३ दिन केदौरे में ३ शहर गए, वही मनमोहन सिंह चायना गए तो ४ दिन का दौरा किया और एक शहर गए. नरेंद्र मोदी ने ३ दिन में २५ मीटिंग की वही मनमोहन सिंह ने ४ दिन में १० मीटिंग की.  

नरेंद्र मोदी २०१४ में अमेरिका गए थे, तभी उन्होंने २ शहर का दौरा किया. मनमोहन सिंह २००९ में अमेरिका गए, तभी उन्होंने 1 शहर का दौरा किया. नरेंद्र मोदी ३४ मीटिंग की जिसमे से ९ बिझनेस मीटिंग्स थी और मनमोहन सिंह ने १५ मीटिंग्स की जिसमे से २ बिझनेस मीटिंग्स थी.  मनमोहन सिंह १० साल में १० बार USA जा चुके है. और नरेंद्र मोदी ४ साल में 5 बार USA गए है.

यह Narendra Modi news भी पढ़ें : रजनीकांत ने की मोदी की प्रशंसा, जानिए कैसे?

Modi News / Narendra Modi

SAARC मीटिंग

२०१४ में नरेंद्र मोदी ने नेपाल में सार्क मीटिंग में गए थे. मनमोहन सिंह ने २०१० में भूटान गए थे. नरेंद्र मोदी ने ३ दिन में २६ मीटिंग अटेम्प की जिसमे से १६ Bilateral मीटिंग थी. और मनमोहन सिंह ने ३ दिन में १५ मीटिंग अटेम्प के जिसमे से ६ Bilateral मीटिंग थी. और सबसे बड़ी एक बात जो ये है की जब से देश आजाद हुवा है, तबसे सारे प्रधानमंत्री मीडिया को विदेश यात्राओंपर ले जाते थे. पर जबसे नरेंद्र मोदी PM बने है तबसे उन्होंने ये परम्परा बंद कर दी है. अब जो मीडिया विदेश जाती है वो अपने पैसों से जाती है.

Modi News / Narendra Modi

सबसे ज्यादा विदेशी दौरे का खर्चा

मनमोहन सिंह का सबसे ज्यादा विदेश दौरे का खर्च उनके ७ दिन के मक्सिको, ब्राझिल और अमेरिका यात्रा में आया था. उसमे कुल २७ करोड़ रुपए खर्च हुए थे. वही नरेंद्र मोदी की बात की जाए तो उनके ९ विदेशी यात्रा फ्रांस, जरमनी, कैनाडा के दौरान ३१ करोड़ रूपए खर्च हुए थे. इससे अब आपको लग रहा हगा की की नरेंद्र मोदी का खर्चा मनमोहन सिंह से बोहत ज्यादा है, जो की ४ साल का ३५५ करोड़ रुपए है और मनमोहन सिंह का १० साल का ६७६ करोड़ रुपए है. तो वही आपको और एक आकडा बता दूँ जो पूर्व प्रधानमंत्री अटलबिहारी वाजपई के विदेशी दौरों को खर्च पर नजर डाले. तो उन्होंने 5 साल के भीतर ३५ यात्राएं की थी और उनपे सिर्फ १८५ करोड़ रुपए खर्च हुवा था.

यह Narendra Modi news भी पढ़ें :- Modi News / ९९% वस्तुओं को १८% जीएसटी

Modi News / Narendra Modi

किसकी विदेशी यात्राओं में क्या फ़ायदा हुवा?

अपने कार्यकाल के दौरान मनमोहन सिंह सबसे ज्यादा अमेरिका गए. लेकिन इसके बावजूद भारत और अमेरिका के बिच परमाणु समझोता उनके बिच बिच ही नहीं सका. वही जब Narendra Modi २०१४ में USA गए तो ओबामा ने ४ बिलियन (2,80,56,00,00,000) का इन्वेस्टमेंट मिला. नरेंद्र मोदी फ्रांस गए वहा मेक इन इंडिया को २ बिलियन यूरोस (1,40,28,00,00,000) का इन्वेस्टमेंट मिला, उसकी साथ फ्रास रेलवे नेशनल रेलवे से अग्रीमेंट हुवा. सेमी हाईस्पीड जो की डेल्ही से चंडीगढ़ रूट के लिए होगी.

४२ साल बाद कोई इंडियन PM कैनाडा गया उरेनियम डील की. कैनाडा हमें 5 साल तक उरेनियम देगा. ऑस्ट्रेलिया गए वहा भी युरिनियम डील की, उसकी साथ ट्रेड डील भी की. जापान गए वहा ३५ बिलियन (24,54,90,00,00,000) डॉलर का इन्वेस्टमेंट मिला, उसके साथ बुलेटट्रेन के लिए जापान को कनवेंस किया. रशिया गए वहा S-400 की डील की. पहली बार कोई इंडियन PM इझ्राइल गया वहापर भी जॉइंट एजुकेशनल प्रोग्राम. चायना गए वहापर भी 20 बिलियन (14,02,80,00,00,000) डॉलर की डील की. उसीके साथ बोहत सी विदेशी यात्राएँ की जिसमे मेक इन इंडिया के लिए बोहत सारा इन्वेस्टमेंट मिला है.

Modi News / Narendra Modi

2 thoughts on “Narendra Modi News / नरेंद्र मोदी और मनमोहन सिंह की विदेश यात्राओं की तुलना.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *